सड़कों पर सियासत…बीजेपी सांसद ने कहा – सड़कों में गड्ढे या गड्ढ़ो में सड़क, कांग्रेस ने बताया BJP के भ्रष्टाचार की कालिख

Spread the love

रायपुर: प्रदेश में इन दिनों सड़कों पर जमकर सियासत हो रही है। राज्यसभा सांसद ने खराब सड़कों को लेकर प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सड़कों में गड्ढे है या गड्ढ़ो में सड़क है, इसका पता ही नहीं चलता है। वहीं कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने पलटवार करते हुए इसे बीजेपी के भ्रष्टाचार की कालिख बताया है।

दरअसल राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय ने दुर्ग जिले की सड़कों की हालत को लेकर गृहमंत्री और मुख्यमंत्री को जिम्मेदार ठहराया है। सांसद ने कहा कि पीडब्ल्यूडी मंत्री का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। इसलिए सड़कों की स्थिति का पता नहीं चलता कि सड़कों में गड्ढे है या गड्ढ़ो में सड़क है।

इस पर पलटवार करते हुए कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी खराब सड़कों को लेकर जो अभियान चला रही है यह उनकी भ्रष्टाचार की निशानी है। उन्होंने कहा कि कोई भी राज्य सरकार जब सड़कें बनवाती है तो अमूमन यह माना गया है कि ये कुछ दशकों के लिए है। किसी भी सड़क की आयु कम से कम 10 से 15 साल तक होती है। यह सड़कें बीजेपी सरकार के द्वारा 2016, 2017 और 2018 चुनावी वर्ष में बनाई गई थी। जिनमें अधिकतम सड़कें कंडम हो गई है।

सुशील आनंद ने कहा कि जिन सड़कों की फोटो बीजेपी के नेता जारी कर रहे है, ये सभी उन्हीं के सरकार द्वारा बनाई गई सड़कें है। जो तीन से चार साल में कंडम हो गई है। इन सड़कों में डामर की कालिश की जगह बीजेपी के भ्रष्टाचार की कालिख थी। पूर्व सीएम रमन सिंह, पूर्व मंत्री राजेश मूणत और सांसद सरोज पांडेय ने अपने भ्रष्टाचार की कालिख को खुद से उजागर करने का काम किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.