कांग्रेस सत्ता में आई तो धारा 370 फिर लागू करेंगे : दिग्विजय सिंह

Spread the love
  • क्लब हाउस चैट पर पाकिस्तानी पत्रकार के सवाल पर दिग्विजय सिंह का बड़ा बयान

नई दिल्ली। क्लब हाउस चैट का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाए जाने के फैसले पर बोल रहे हैं। उनके कथित ऑडियो में वह बोल रहे हैं कि यहां से जब धारा-370 हटाई गई, तब लोकतंत्रिक मूल्यों का पालन नहीं किया गया। इस दौरान न ही इंसानियत का तकाजा रखा गया और इसमें कश्मीरियत भी नहीं थी। सभी को कालकोठरी में बंद कर दिया गया। अगर कांग्रेस सरकार सत्ता में आई, तो हम इस फैसले पर फिर से विचार करेंगे और धारा-370 लागू करेंगे।
दरअसल, दिग्विजय देश-विदेश के कुछ पत्रकारों से वर्चुअली बात कर रहे थे। इस दौरान शाहजेब जिल्लानी धारा-370 से जुड़ा एक सवाल कांग्रेस महासचिव से पूछा। दावा किया जा रहा है कि जिल्लानी एक पाकिस्तानी पत्रकार हैं। जिल्लानी ने पूछा था कि जब मौजूदा सरकार जाती है और भारत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद दूसरा प्रधानमंत्री मिल जाता है, तो कश्मीर पर आगे का रास्ता क्या होगा? मुझे पता है कि अभी भारत में जो हो रहा है, उसके कारण यह हाशिये पर है। हालांकि, यह एक ऐसा मुद्दा है जो दोनों देशों के बीच इतने लंबे समय से मौजूद है।

  • भाजपा ने इस विषय पर सोनिया-राहुल से मांगा जवाब

क्लब हाउस चैट पर दिग्विजय के बयान पर भारतीय जनता पार्टी ने कड़ी आपत्ति दर्ज कराया है। एक प्रेस कांफ्रेेंस में भारतीय प्रवक्ता संबित पात्रा में कहा है कि कांग्रेस नेताओं का बयान और पाकिस्तानियों के बयान का सुर लगभग एक समान हैं। कांग्रेस नेताओं के बयान से भारत की छवि का क्षति पहुंची है। संबित पात्रा में कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से इस संबंध में जवाब मांगा है कि दिग्विजय सिंह द्वारा जारी किये गये बयान पर कांग्रेस अपना रूख स्पष्ट करे।

  • दिग्विजय का बयान देशद्रोह की श्रेणी का

धारा धारा 370 पर दिग्विजय सिंह द्वारा दिये गए बयान पर मध्यप्रदेश चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने पलटवार किया है। विश्वास सारंग ने दिग्विजय के बयान को देशद्रोह बताया है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह ने जिस प्रकार से क्लब हाउस में पाकिस्तान के पत्रकारों के बीच में धारा 370 के बारे में जो टिप्पणी की है वह देशद्रोही की श्रेणी में आता है। मंत्री सारंग ने कहा कि इस तरह का बयान देकर दिग्विजय सिंह ने देश के साथ गद्दारी की है। दिग्विजय सिंह और कांग्रेस के नेता भारत को अंतरराष्ट्रीय मंच पर बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। सारंग ने आगे कहा कि दिग्विजय सिंह को कहना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का था, है और भारत का ही रहेगा। दिग्विजय सिंह जैसे कितने ही नेता जन्म ले लें कश्मीर में धारा 370 वापस नहीं लगाई जाएगी। दिग्विजय सिंह और कांग्रेस को अल्टीमेटम देता हूं यदि इस देश को तोडऩे की कोशिश की जाएगी तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.