सोनी पर 154 मिलियन डॉलर गबन करने का आरोप, यूएस ने की बड़ी कार्रवाई

Spread the love

नई दिल्ली| संयुक्त राज्य अमेरिका ने सोमवार को टोक्यो स्थित सोनी कॉर्पोरेशन के खिलाफ एक शिकायत दर्ज की है। सोनी पर यह शिकायत एक सहायक कंपनी से कथित तौर पर चुराए गए 154 मिलियन डॉलर को वापस करने के लिए की गई है। अमेरिकी न्याय विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले की जांच एफबीआई को सौंपी गई थी। इसके बाद मामले को गंभीरता से लेकर जब्तीकरण की कार्रवाई की गई। अमेरिकी न्याय विभाग ने बताया कि एफबीआई जांच के आधार पर 1 दिसंबर को ही कानून प्रवर्तन द्वारा मामले में कार्रवाई की गई थी।

3,879 से अधिक बिटकॉइन में बदले फंड

विभाग ने एक बयान में कहा कि टोक्यो में सोनी लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के एक कर्मचारी री इशी ने कथित तौर पर मई में संपत्ति का गबन किया। इसके बाद इशी ने इस फंड को 3,879 से अधिक बिटकॉइन में बदल दिया। विभाग का कहना है कि वर्तमान समय में बिटकॉइन में बदले गए फंड की कीमत मार्केट में 180 मिलियन डॉलर से भी अधिक है।

ट्रांजैक्शन नियमों को तोड़ा

कैलिफोर्निया के दक्षिणी जिले के फेडरल कोर्ट में दायर की गई शिकायत के अनुसार इशी ने गलत तरीके से ट्रांजैक्शन किया। साथ ही उसने सभी नियमों को तोड़ते हुए कंपनी रूल के खिलाफ जाकर फंड को ट्रांसफर कर लिया। कोर्ट ने बताया कि इशी ने फंड को कैलिफोर्निया की ला जोला बैंक में ट्रांसफर कर दिया और उन्हें बिटकॉइन में बदल दिया।

कानून प्रवर्तन ने जब्त किए फंड

वहीं, अमेरिकी न्याय विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि चोरी के सभी बिटकॉइन को बरामद कर लिया गया है। कोर्ट ने बताया कि एफबीआई ने जांच पहले ही शुरू कर दी थी। एफबीआई जांच के आधार पर 1 दिसंबर को ही कानून प्रवर्तन द्वारा कार्रवाई करते हुए उन फंडों को जब्त कर लिया गया था। फंड पूरी तरह से सुरक्षित हैं। आरोपी इशी पर जापान में आपराधिक आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.