महाकाली मंदिर के पुजारी की हत्या, इस इरादे से उतारा गया मौत के घाट?

Spread the love

बिजनौर: उत्तर प्रदेश के बिजनौर में महाकाली मंदिर के पुजारी की अज्ञात बदमाशों ने हत्या कर दी. इस हत्या के बाद से इलाके में सनसनी फैल गई. हत्या के पीछे लूट की आशंका जताई जा रही है, क्योंकि पुजारी के कमरे का सामान भी बिखरा हुआ मिला है और उसका मोबाइल भी गायब है. ऐसा लग रहा है कि बदमाश हत्या के बाद पुजारी की लाश को मंदिर के बाहर फेंककर फरार हो गए. मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.

मंदिर के बाहर मिला शव नांगल क्षेत्र के गंगा घाट के किनारे बने महाकाली के मंदिर में पिछले 20 सालों से 60 साल के पुजारी राम दास महाराज गिरी पूजा कर रहे थे. बीती रात अज्ञात बदमाशों द्वारा हत्या कर दी गई. सुबह मंदिर में पूजा करने पहुंचे ग्रामीणों ने महाराज का शव मंदिर के बाहर पड़ा देखा तो उनके होश उड़ गए और इसकी सूचना तुरंत ही पुलिस को दी गई. मौक पर पहुंचकर पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना किया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा. बताया जा रहा कि पुजारी पर लाठी, डंडों के अलावा तेज धारदार हथियार से हमला किया गया था. शव के पास खून बिखरा पड़ा हुआ था.

20 सालों से मंदिर में पूजा कर रहे थे पुजारी इस मामले पर डॉक्टर धर्मवीर सिंह पुलिस अधीक्षक बिजनौर ने बताया कि नांगल थाना क्षेत्र के गांव नांगल में मां काली का मंदिर है. पुजारी रामदास गिरी मंदिर के बाहर एक गैरेजनुमा एक कमरे में रहते थे. पूछताछ में लोगों ने पुलिस को बताया कि वो इस कमरे का शटर कभी नहीं खोलते थे. लेकिन रात में संभवत कोई परिचित आया होगा. जिसकी वजह से शटर खोला गया और उसके बाद हत्या की गई. पुलिस को किसी परिचित पर हत्या का शक पुलिस का कहना है कि जल्द ही इस हत्या का खुलासा कर दिया जाएगा और हत्यारों को पकड़ने की कोशिश की जा रही है. आसपास के सीसीटीवी कैमरों पर भी नजर रखी जा रही है. इस घटना के बाद से गांव में डर का माहौल है. पुलिस को मंदिर परिसर में स्थित राम मंदिर का दानपात्र भी खुला मिला.

Leave a Reply

Your email address will not be published.