भारत-रूस के रिश्ते हुए और भी ज्यादा मजबूत, दुनिया में नए समीकरण उभरे’, पुतिन से मुलाकात पर बोले पीएम मोदी

Spread the love

भारत के दौरे पर आए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) से सोमवार को दिल्ली के हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने मुलाकात की. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि कोविड की चुनौतियों के बावजूद भारत और रूस (India & Russia) के बीच द्विपक्षीय संबंधों और सामरिक भागीदारी में कोई बदलाव नहीं आया है. कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी दोनों देशों के बीच सहयोग रहा है.

साथ ही कहा कि आर्थिक क्षेत्र में भी हमारे रिश्तों को आगे बढ़ाने के लिए हम एक दीर्घकालिक दृष्टि अपना रहे हैं. हमने 2025 तक 30 बिलियन डॉलर ट्रेड और 50 बिलियन डॉलर के निवेश का लक्ष्य रखा है. 2021 हमारे द्विपक्षीय संबंधों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है. पीएम मोदी ने कहा कि इस साल हमारे 1971 की ट्रीटी ऑफ पीस फ्रेंडशिप एंड कोऑपरेशन के पांच दशक और हमारी सामरिक भागीदारी के 2 दशक पूरे हो रहे हैं.

पीएम मोदी ने ट्वीट करके भी रूसी राष्ट्रपति पुतिन का किया स्वागत 

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि आज हमारे बीच हुए विभिन्न समझौतों से इसमें मदद मिलेगी. मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत कोर डेवलपमेंट और को प्रोडक्शन से हमारा रक्षा सहयोग और मजबूत हो रहा है. पीएम मोदी ने एक ट्वीट करके भी रूसी राष्ट्रपति पुतिन का स्वागत किया है. ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा कि भारत में आपका स्वागत है मेरे मित्र राष्ट्रपति पुतिन. आज की हमारी बैठक हमारी विशेष और विशेषाधिकार प्राप्त रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करेगी. आज हम जो पहल कर रहे हैं, वो नए क्षेत्रों में हमारे सहयोग के दायरे को और बढ़ाएंगे.

वहीं रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि हम सहयोगी हैं और बहुत महत्वपूर्ण चीजों पर साथ काम कर रहे हैं, जिसमें ऊर्जा क्षेत्र, अंतरिक्ष सहित उच्च तकनीक शामिल हैं. आज हमने यहां जिन प्रोग्राम पर बात की है उन्हें पूरी तरह से लागू किया जाएगा जिसमें भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों की ट्रेनिंग शामिल है. साथ ही कहा कि मुझे भारत का दौरा करके बहुत खुशी हो रही है. पिछले साल दोनों देशों के बीच ट्रेड में 17 फीसदी की गिरावट हुई थी, परंतु इस साल पहले 9 महीनों में ट्रेड में 38 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.