दुष्कर्म होना ही है तो…कांग्रेस विधायक के बयान पर मचा बवाल, जया बच्चन-स्मृति ईरानी भड़कीं

Spread the love

नई दिल्ली: रेप रोक नहीं सकते तो इसका आनंद लें, कर्नाटक के कांग्रेस नेता की ओर से की गई विवादित टिप्पणी को लेकर जहां पार्टी असहज है तो वहीं भारतीय जनता पार्टी ने (बीजेपी) आक्रामक हो गई है। केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को यह मुद्दा लोकसभा में भी उठाया और कहा कि विपक्षी पार्टी को अपने इस नेता को न्याय के जद में लाना चाहिए। वहीं, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी इस तरह की टिप्पणी को गलत बताया है।

कर्नाटक में कांग्रेस विधायक के आर रमेश कुमार ने गुरुवार को विधानसभा में कहा कि ‘जब बलात्कार को ना रोका जा सके तो इसका आनंद लें।’ विवाद खड़ा होने के बाद उन्होंने माफी मांग ली। कांग्रेस और कुछ अन्य विपक्षी दलों के सदस्य जब केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा की बर्खास्तगी की मांग को लेकर शुक्रवार को लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान हंगामा कर रहे थे तो एक पूरक प्रश्न का उत्तर देते समय ईरानी ने कांग्रेस पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि कुछ सदस्य यहां उन्हें बोलने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं और यदि वे गरीब महिलाओं और बच्चों की सेवा में विश्वास करते हैं तो ऐसा नहीं करना चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस का नाम लिए बगैर कहा, ”अगर आप महिलाओं के मकसद में विश्वास करते हैं तो उस विधायक की निंदा करिए जिसने कहा है कि अगर बलात्कार होता है तो उसका आंनद लेना चाहिए। जो लोग यहां आसन के निकट हैं, वो पहले अपने राजनीतिक संगठन के पास जाएं और उस व्यक्ति को न्याय के जद में लाएं।”

समाजवादी पार्टी की राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने भी कर्नाटक विधायक की टिप्पणी पर नाराजगी जाहिर की और इसे शर्मनाक बताया। उन्होंने कांग्रेस पार्टी से विधायक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। बच्चन ने एएनआई से बातचीत में कहा, ”शर्मानक व्यवहार, शर्मनाक काम। पार्टी को उनपर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए ताकि उन लोगों के लिए उदाहरण बने जिससे वे ऐसा सोचें भी नहीं, सदन में बोलना तो दूर की बात।” उन्होंने आगे कहा, ”यदि विधानसभा और संसद में ऐसे लोग बैठे हैं तो चीजें कैसे बदलेंगी? हमें सख्त सजा देकर उदाहरण पेश करना चाहिए ताकि दूसरा ऐसा बोलने की हिम्मत ना करें। यह घृणित है, मैं स्तब्ध हूं।” कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ”यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है, वह अभ्रद बात कहना नहीं चाहिए था। वह बहुत अनुभवी व्यक्ति हैं, दो बार स्पीकर थे, मंत्री थे, ऐसी बात नहीं करना। मैं नहीं चाहता कि ऐसी बात करें जिसकी कोई तारीफ नहीं, सब आलोचना कर रहे हैं। इसलिए उन्होंने माफी मांगी तो बात भी खत्म कर देनी चाहिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.