लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने वाला बिल लोकसभा में पेश, टीएमसी ने किया विरोध

Spread the love

लखीमपुर कांड पर संसद के अंदर और बाहर सियासी संग्राम के फिलहाल थमने के आसार नहीं दिख रहे हैं। विपक्ष राज्यसभा के 12 सदस्यों के निलंबन और लखीमपुर खीरी कांड में गिरफ्तार आशीष मिश्र के पिता और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के इस्तीफे की मांग पर अड़ा हुआ है। विपक्षी दल अपनी मांग को लेकर ने दोनों सदनों में हंगामा कर रहे हैं। जिसकी वजह से लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही कई बार बाधित हुई। गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर राहुल गांधी समेत विपक्षी सांसदों ने संसद भवन में गांधी प्रतिमा से लेकर विजय चौक तक विरोध मार्च निकाला। वहींकेंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री, स्मृति ईरानी ने लोकसभा में बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021 पेश किया है। इसके बाद लोकसभा की कार्यवाही को 22 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

लोकसभा में पेश हुआ लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने वाला बिल

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री, स्मृति ईरानी ने लोकसभा में बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021 पेश किया। विधेयक में महिलाओं की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल करने का प्रावधान है।

विधेयक को स्थायी समिति के पास भेजने की मांग

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021 पर कहा कि हम सरकार को सलाह देना चाहते हैं कि जल्दबाजी में काम करने से गलतियां होती हैं। इस मामले को लेकर भारत में काफी चर्चा हो रही है। सरकार ने तो किसी हितधारक से बात की है और ही किसी राज्य से सलाह ली है। हम मांग करते हैं कि विधेयक को स्थायी समिति के पास भेजा जाए।

टीएमसी ने किया विधेयक का विरोध

टीएमसी सांसद सौगत राय ने कहा कि जिस तरह से सरकार जल्दबाजी में बिल लाई है उसका मैं विरोध करता हूं। इस विधेयक पर सभी हितधारकों के बीच पूर्ण चर्चा की आवश्यकता है। अल्पसंख्यक लोग इस बिल का पूरी तरह से विरोध कर रहे हैं।

संसद भवन से विजय चौक तक विपक्ष का मार्च

लखीमपुर खीरी मामले में गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा के इस्तीफ़े की मांग को लेकर राहुल गांधी समेत विपक्षी सांसदों ने गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च निकाला। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि हमने बारबार कहा है कि एक मंत्री के बेटे ने किसानों को जीप के नीचे कुचला है, रिपोर्ट आई है कि ये एक साजिश है, प्रधानमंत्री उस मंत्री के बारे में कुछ नहीं करते हैं। हम इस व्यक्ति को जेल में डाल कर दिखाएंगे, छोड़ेंगे नहीं।

हजारों बोगस लोगों का नाम हट जाएगा

चुनाव कानून (संशोधन) विधेयक पर भाजपा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि राजद और तृणमूल कांग्रेस के लोग बोगस मतदाता सूची के बल पर चुनाव जीतकर आते रहे हैं। अब इन लोगों को डर है कि आधार से जोड़ दिया गया तो एक आदमी का नाम एक ही जगह रह पाएगा और हजारों बोगस लोगों का नाम हट जाएगा।

बोलने का मौका नहीं देती सरकारडोला सेन

टीएमसी सांसद डोला सेन ने कहा कि प्रधानमंत्री हर दिन सदन की गरिमा को कम कर रहे हैं। कृषि कानूनों को निरस्त करने, विमुद्रीकरण जैसी घोषणाएं बिना चर्चा के की गई। 10 मिनट में बिल पास हो जाते हैं। जब वे हमें बोलने का मौका नहीं देते तो हम चिल्लाते हैं, नारे लगाते हैं।

निलंबित सांसदों ने संसद की गरिमा को कम किया

केंद्रीय मंत्री एआर मेघवाल ने कहा है कि निलंबित सांसदों ने संसद की गरिमा को कम किया है। उन्हें कुछ पछतावा होना चाहिए। अगर वे माफी मांगते हैं, तो सरकार निलंबन को रद्द करने के बारे में सोचेगी। संसदीय परंपरा रही है अगर कोई सांसद संसद की गरिमा को कम करने के लिए कुछ करता है, तो उन्होंने माफी मांगी।

कांग्रेस ने दिया स्थगन प्रस्ताव

लखीमपुर खीरी कांड को लेकर कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्यसभा में बिजनेस नोटिस दिया, साथ ही गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के तत्काल इस्तीफे की मांग की है। लखीमपुर खीरी कांड पर ही कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव दिया है। वहीं, सीपीआइ (एम) सांसद डा. वी शिवदासन ने AFSPA को वापस लेने पर चर्चा करने के लिए राज्यसभा में नियम 267 के तहत निलंबन नोटिस दिया है।

राज्यसभा में पेश होगा वोटर आइडी को आधार से जोड़ने वाला विधेयक

मतदाता सूची में दोहराव और फर्जी मतदान को रोकने के लिए चुनाव सुधार (संशोधन) विधेयक 2021 को आज राज्यसभा में पेश किया जाएगा। इसके मद्देनजर भाजपा और कांग्रेस ने अपने सांसदों के लिए व्हिप जारी किया है। बता दें कि लोकसभा इस विधेयक को सोमवार को पारित कर चुकी है।

भाजपा ने जारी किया तीन पंक्तियों का व्हिप

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को राज्यसभा में सरकार के रुख का समर्थन करने और विधेयकों के समर्थन में मतदान करने के लिए अपने सदस्यों की अनिवार्य उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए सोमवार को तीन पंक्तियों का व्हिप जारी किया। सोमवार को ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी मंत्रिमंडल के वरिष्ठ मंत्रियों के साथ संसद में एक बैठक की और विभिन्न मसलों के साथसाथ बाकी शीत सत्र के लिए आगे की रणनीति पर विचारविमर्श किया।

गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे के लिए मार्च करेगा विपक्ष

लखीमपुर खीरी कांड में गिरफ्तार आशीष मिश्र उर्फ मोनू के पिता और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र उर्फ टेनी के त्यागपत्र की मांग को लेकर संसद के दोनों सदनों के विपक्षी नेता आज संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से विजय चौक तक मार्च निकालेंगे।

पहले दिन से ही प्रभावित हो रही कार्यवाही

राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सदन के 12 सदस्यों के निलंबन के मुद्दे पर जारी गतिरोध का समाधान निकालने की दिशा में कोई प्रगति नहीं होने पर नाखुशी व्यक्त की। इस वजह से संसद के उच्च सदन की कार्यवाही शीतकालीन सत्र के पहले दिन से ही प्रभावित हो रही है। बता दें कि संसद के शीतकालीन सत्र का 23 दिसंबर को समापन हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.