एक ऐसा शहर जहां सबकुछ नीला, इसे पवित्रता का रंग माना जाता है, लेकिन 40% नशे का व्यांपार यहीं से होता है

Spread the love

दुनिया में एक ऐसा शहर भी है जो नीले रंग में रंगा हुआ है.पहाड़ों के बीच बसे इस शहर को ‘कोबाल्‍ट ब्‍लू सिटी’ कहते हैं. मोरक्‍को के इस शहर का नाम है शफशवन. यहां के घर, दीवार, खिड़कियों से लेकर सड़कें तक नीले रंग में रंगी हैं. इस शहर की नींव 1471 में पड़ी थी. इसे मोरक्‍को के सबसे पवित्र शहरों में गिना जाता है.

इस शहर के लोग इसे काफी पवित्र मानते हैं, इसलिए यहां पर्यटकों की आवाजाही के लिए मनाही है. इसे नीले रंग में रंगने की भी एक वजह है. यहां के लोग इस रंग को प‍व‍ित्रता का प्रतीक मानते हैं, इसलिए पूरा शहर नीले रंग में रंगा है. यहां की हर चीज में इसी रंग का कॉम्बिनेशन मिलेगा.

शहर को नीले रंग में रंगने को लेकर यहां कई मान्‍यताएं हैं. जैसे- कुछ लोग मानते हैं कि नीले रंग के कारण मच्‍छर दूर रहते हैं. वहीं, कुछ लोगों का कहना है, इस रंग का प्रयोग शहर को खूबसूरत बनाने के लिए किया गया है. इस शहर को यूनेस्‍को की वर्ल्‍ड हेरिटेज की श्रेणी में रखा गया है.

पूरे मोरक्‍को में यही एकमात्र शहर है जहां कानूनीतौर पर भांग की खेती करने की अनुमति दी गई है. यहां लाखों लोगों के लिए भांग की खेती ही उनकी आय का एकमात्र स्रोत है. दुनियाभर में इस्‍तेमाल होने वाली चरस की 40 फीसदी तक सप्‍लाई इसी शहर से की जाती है.

कुछ स्‍थानीय लोगों के नापसंद करने के बावजूद यहां पर्यटक पहुंचते हैं और तस्‍वीरें लेना नहीं भूलते. यहां सबसे ज्‍यादा लोग यूरोपीय देशों से पहुंचते हैं. गर्मियों के मौसम में यहां के होटल फुल हो जाते हैं. एक चौंकाने वाली बात यह भी है कि इस शहर में लगे गांजे के पौधे भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.