ला पाल्मा ज्वालामुखी के कारण 1484 इमारतें जलकर खाक, खेतों की फसलें भी जली

Spread the love

कैनरी आइलैंड । स्पेन के कैनरी आइलैंड पर स्थित ला पाल्मा ज्वालामुखी शांत नहीं हो रहा है। करीब दो महीनों से ज्वालामुखी लगातार लावा उगलता ही जा रहा है।नतीजा ये है कि इसके गर्म लावे की वजह से 1484 इमारतें जलकर खाक हो चुकी है। ज्वालामुखी से निकले लावे ने पूरे आइलैंड को पार करके करीब 3.50 किलोमीटर की दूरी तय करके अटलांटिक महासागर में नया डेल्टा बना दिया है।

लावा की नदियां पूरे आइलैंड से बहकर समुद्र तक पहुंच चुकी है। जमीन के गर्भ से निकले राख की वजह से पूरा आइलैंड राख के पहाड़ों में बदल चुका है।ज्वालामुखी के मुंह से लावा के बड़े-बड़े गर्म पिघले हुए पाइरोक्लास्टिक पत्थर निकल रहे हैं।लावा की वजह से 1195 घर, 160 खेती से जुड़ी इमारतें, 67 औद्योगिक इमारतें, 34 गोदाम, 123 सार्वजनिक इमारतें और 15 अन्य उपयोग की इमारतें जल चुकी हैं।

लावा की नदियों की चौड़ाई करीब 3.30 किलोमीटर है।लावा की वजह से 340.59 हेक्टेयर खेत राख में तब्दील हो चुके हैं।इसमें से 211.19 हेक्टेयर में केले की खेती होती थी।60 वाइनयार्ड थे और 26 एवोकाडो प्लांटेशन थे।कैनरी आइलैंड के वैज्ञानिकों ने देखा है कि ज्वालामुखी के दक्षिणी ओर एक नया मुंह खुल गया है, जहां से लावा तेजी से निकल रहा है।यहां से निकलने वाले लावा की गति 600 मीटर प्रतिघंटा है।यहां पर लगातार भूकंपीय गतिविधियां भी हो रही हैं।अक्सर जमीन कांपने लगती है, उसके साथ ही ज्वालामुखी गुर्राने लगता है।

ला पाल्मा ज्वालामुखी से निकलने वाली राख 4800 मीटर ऊंचाई तक जा रही है।यानी करीब 5 किलोमीटर ऊंचाई तक राख पहुंच रही है, फिर हवा के साथ आसपास के इलाकों को राख के ढेर में तब्दील कर रही है। समुद्र में बना नया डेल्टा गर्म है।इसकारण वहां से लगातार सफेद धुआं उठ रहा है। क्योंकि जब लावा अटलांटिक महासागर से मिलता है तब धुआं बनता है।इसकारण द्वीप पर मौजूद एयरपोर्ट बंद है। क्योंकि घने धुएं और राख की वजह से यहां पर उड़ान सेवाएं बंद हैं। ला पाल्मा ज्वालामुखी दो महीने पहले 50 साल बाद फटा था. यह अब भी हजारों फीट ऊपर तक लावा फेंक रहा है. पांच जगहों से लावा फूटकर बाहर निकल रहा था. अब तो यह अनगिनत जगहों से बाहर आ रहा है. पहले लावा शहर को तीन तरफ से घेर रहा था, अब इसने चारों तरफ से घेर रखा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.