कच्चे दूध को इन तरीकों से करें अपने स्किन केयर रूटीन में शामिल, मिलेंगे कई फायदे

Spread the love

कच्चे दूध के फायदे सिर्फ शारीरिक लाभों तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि इसका इस्तेमाल त्वचा को प्राकृतिक रूप से निखारने और स्वस्थ रखने के लिए भी किया जा सकता है। यह त्वचा के श्च॥ स्तर के संतुलन को बरकरार रख इसे सुरक्षा प्रदान कर सकता है। आइए आज आपको बताते हैं कि कच्चे को किन-किन तरीकों से अपने स्किन केयर रूटीन में शामिल करके आप इसका भरपूर फायदे पा सकते हैं।

  • फेस टोनर की तरह करें इस्तेमाल

त्वचा को हाइड्रेट और स्वस्थ रखने में फेस टोनर अहम भूमिका अदा करता है और इसके लिए आप कच्चे दूध का इस्तेमाल कर सकते हैं। कच्चे दूध में लैक्टिक एसिड और अल्फा-हाइड्रोक्सी एसिड के गुण मौजूद होते हैं। ये गुण त्वचा को धीरे-धीरे एक्सफोलिएट करते हुए रंगत को साफ करने में मदद कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त ये त्वचा पर चमक लाने में भी सहायक हो सकते हैं। रूई को कच्चे दूध में भिगोकर इसका इस्तेमाल बतौर फेस टोनर करें।

  • क्लींजर के रूप में करें इस्तेमाल

कच्चा दूध युक्त क्लींजर त्वचा को गहराई से साफ करके विषाक्त पदार्थों और अन्य अशुद्धियों को दूर करने में काफी मदद कर सकता है, इसलिए त्वचा पर इसका इस्तेमाल जरूर करें। कच्चे दूध का क्लींजर बनाने के लिए सबसे पहले एक कटोरी में आवश्यकतानुसार कच्चा दूध और दही मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर 10 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।

  • बतौर मेकअप रिमूवर करें इस्तेमाल

अगर आपके पास मेकअप रिमूवर नहीं है तो इसके विकल्प के तौर पर आप कच्चे दूध का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए हाथों पर थोड़ा सा दूध लेकर इसे चेहरे पर मलें और फिर एक टिश्यू पेपर से चेहरे को अच्छे से पोंछ लें। इसके बाद साफ पानी से अपना चेहरा धो लें। कच्चे दूध में मौजूद तत्व त्वचा की कोमलता से सफाई करते हैं और त्वचा को मॉइस्चराइज करने में भी मदद करते हैं।

  • बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करने के लिए बनाएं फेस पैक

अगर आप समय से पहले उभरने वाले बढ़ती उम्र के लक्षणों से राहत पाना चाहते हैं तो इसके लिए भी कच्चे दूध का इस्तेमाल किया जा सकता है। राहते के लिए एक बड़ी चम्मच कच्चे दूध को एक चम्मच शहद के साथ मिलाएं। अब इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाकर आराम-आराम से मालिश करें। करीब 10 मिनट बाद चेहरे को साफ पानी से धो लें। हफ्ते में तीन बार इस प्रक्रिया को दोहराना लाभदायक होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.