बिलासपुर : सी.वी रमन यूनिवर्सिटी के खिलाफ याचिका दायर, गलत तरीके से डिग्री बांटने लगाया गया है आरोप

Spread the love

सी.वी रमन यूनिवर्सिटी के खिलाफ याचिका दायर

गलत तरीके से डिग्री बांटने लगाया गया है आरोप

VM News desk :-  

उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने सीवी रमन विश्वविद्यालय ( CV RAMAN UNIVERSITY) के खिलाफ अनियमितताओं को लेकर दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश जारी किया  कि अगर पक्ष 4 सप्ताह के भीतर अपना जवाब दाखिल नहीं करते हैं , तो उन्हें याचिकाकर्ता को मुआवजे के रूप में एक-एक लाख रुपये का भुगतान करना होगा। याचिकाकर्ता  द्वारा  विश्वविद्यालय प्रबंधन के 11 अलग-अलग पदाधिकारियों को पक्षकार के रूप में नामित किया है। मामले की अगली सुनवाई अब 20 सितंबर को तय की गई है। पूरे मामले की सुनवाई कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश प्रशांत मिश्रा और रजनी दुबे की पीठ में हुई l

और पढ़े :- राज्यसभा में धक्का-मुक्की पर मचा बवाल , मारपीट का आरोप लगाते हुए रो पड़ीं फूलोदेवी नेताम

बिलासपुर की रहने वाली आरती सिंह ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर आरोप लगाया है कि सीवी रमन यूनिवर्सिटी को गलत तरीके से डिग्री दी गई। आरती सिंह के वकील रोहित शर्मा ने कहा कि विश्वविद्यालय ने सरकार से उचित अनुमति के बिना विभिन्न पाठ्यक्रम संचालित किए । इन मुद्दों को लेकर आरती सिंह ने यूनिवर्सिटी के खिलाफ याचिका दायर की है। उन्होंने अदालत से कहा है कि दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के लिए पूरा मामला सीबीआई को सौंपे.रहा है। इन मुद्दों को लेकर आरती सिंह ने यूनिवर्सिटी के खिलाफ याचिका दायर की है। उन्होंने अदालत से कहा है कि दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के लिए पूरा मामला सीबीआई को सौंपे.

मोदी के न्यू इंडिया का मकसद भारत को भूत के अँधेरे में ले जाना है – सीताराम येचुरी

रासायनिक खाद संकट : प्रदेश में खाद संकट के लिए कांग्रेस-भाजपा दोनों जिम्मेदार :छत्तीसगढ़ किसान सभा

Leave a Reply

Your email address will not be published.