डीईओ की कार्यशैली को लेकर शिक्षक संघ पुन: हुआ लामबंद

Spread the love

कोरबा। जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडे के खिलाफ एक बार बार फिर बड़ा आरोप लगा है । आरोप है कि संकुल समन्वयकों की नियुक्ति से पूर्व नोडल प्राचार्य एवं प्रस्तावित संकुल समन्वयकों के संयुक्त हस्ताक्षर से बैंक खाता खोले जाने का आदेश डीईओ कार्यालय द्वारा जारी कर दिया गया है ।जबकि शासकीय खाता खोले सम्बन्धी आदेश जारी ही नहीं हुआ है। संकुलों के रखरखाव एवं सामग्री की आपूर्ति के लिए प्राप्त राशि के बंदरबाट के लिए यह खेल खेला जा रहा है।खाता नहीं खुले होने के बाद बाद भी संकुल के लिए सामग्री की आपूर्ति करने का सनसनीखेज आरोप भी लग रहा है। उक्त प्रक्रिया पर आक्रोश व्यक्त करते हुए शिक्षक संघर्ष मोर्चा डीईओ के खिलाफ कार्यवाई को लेकर एक बार फिर लामबंद हो गया है ।
छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ एवं शिक्षक संघर्ष मोर्चा कोरबा के पदाधिकारियों द्वारा ज्ञापित शिकायत पत्र में उल्लेख किया गया है कि राज्य परियोजना कार्यालय समग्र शिक्षा रायपुर छ.ग. के पत्र क्रमांक एफ-5-4/दिनाँक 11जनवरी 2021के द्वारा जिले में 130 नवीन संकुलो का पुनर्गठन कर संकुल केंद्र समन्वयक की नियुक्ति की जानी थी ।इस हेतु विधिवत विभिन्न प्रस्तावित संकुल से आवेदन भी मंगया गया। लेकिन जिला शिक्षा अधिकारी की लेटलतीफी एवं संदिग्ध कार्यप्रणाली के कारण आज तक संकुल समन्वयक की नियुक्ति नहीं की जा सकी है । कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी के पत्र क्रमांक 703 दिनांक 02.06.2021 के द्वारा साधारण आदेश जारी कर उल्लेखित किया गया की वर्तमान में संकुल समन्वयक की नियुक्ति प्रक्रिया अधीन है अत: नोडल प्राचार्य एवं प्रस्तावित संकुल समन्वयक के द्वारा संकुल के कार्य संपादित किया जावे ।तदुपरांत कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी के पत्र क्रमांक 952 दिनांक 14 जून 2021 के द्वारा नोडल प्राचार्य एवं संकुल समन्वयक के संयुक्त हस्ताक्षर द्वारा संचालित अकाउंट खोलने संबंधित निर्देश जारी किया गया।
ज्ञात हो कि किसी भी राष्ट्रीय कृत बैंक में शासकीय अकाउंट खोलने से पूर्व खाताधारकों का आदेश होना अनिवार्य है परंतु जिले में संकुल समन्वयक की नियुक्ति हेतु किसी भी प्रकार का कोई आदेश जारी नहीं किया गया है उसके बाद भी जिला शिक्षा अधिकारी के द्वारा दबाव बनाकर अकाउंट खुलवाने संबंधी मौखिक निर्देश दिए जा रहे हैं इस हेतु शिक्षकों पर दबाव भी बनाया जा रहा है द्य
शिक्षक संघर्ष मोर्चा जिला कोरबा के संरक्षक एवं तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष सुरेश कुमार द्विवेदी, कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ एवम शिक्षक संघर्ष मोर्चा के जिला संयोजक ओम प्रकाश बघेल, छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष एवं मोर्चा के महासचिव तरुण सिंह राठौर ने संयुक्त रुप से बयान जारी कर उक्त जानकारी दी है।
तो कैसे पहुंच गई पहुंच गई सामग्री 
ज्ञात हो कि राज्य शासन द्वारा प्रति संकुल के रखरखाव एवं सामग्री हेतु 80 हजार एवं अन्य राशि स्वीकृत की गई है जिसे उस संकुल के नोडल प्राचार्य एवं संकुल समन्वयक के संयुक्त खाते में स्थानांतरित किया जाना था। परंतु जिले में संकुल समन्वयक की नियुक्ति न हो पाने एवं ऐसा अकाउंट संचालित न होने की वजह से राशि आज पर्यंत जारी नहीं की जा सकी है। उसके बाद भी इन संकुल में आवश्यक सामग्री की आपूर्ति पूर्व में भी कर दी गई है यह विडंबना ही है कि जिस कार्य हेतु राशि भी जारी न की गई हो उसकी सामग्री की आपूर्ति कैसे कर दी गई है। जिला शिक्षा अधिकारी के कार्य प्रणाली से शिक्षकों में खासा रोष व्याप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.