चिक्की बादाम खाने से स्कूली बच्चों की बिगड़ी तबीयत, जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती

Spread the love

दुर्ग। जिला मुख्यालय दुर्ग से सात किमी दूर कोलिहापुरी प्राथमिक शाला में पढ़ने वाले करीब 25 बच्चे स्कूल से दिए गए पौष्टिक चिक्की खाने के बाद बीमार पड़ गए। चिक्की खाने के बाद थोड़ी देर बाद बच्चों ने बताया कि उनके पेट में दर्द हो रहा है। बारी-बारी से सभी बच्चे इसी तरह की समस्या बताने लगे। चिक्की खाने के बाद बीमार हुए बच्चों को स्कूल के प्रधानाध्यापक और शिक्षकों ने जिला अस्पताल दुर्ग में भर्ती कराया। यहां उनका उपचार किया जा रहा है।

गुरुवार को सुबह 11 बजे के आसपास दोपहर में खाने की छुट्टी के समय स्कूल की ओर से बच्चों को चिक्की दी गई थी। सरकारी योजना के तहत पौैष्टिक चिक्की स्कूल के सभी बच्चों को बांटी गई। आधे घंटे के बाद बच्चों ने शिक्षकों से पेट में दर्द होने की समस्या बताई। पहले तो शिक्षकों ने सोचा कोई सामान्य बात होगी। लेकिन थोड़ी देर बाद जितने बच्चों ने चिक्की खाई थी सभी ने पेट में तेज दर्द होने की समस्या बताने लगे।

सरपंच ज्वाला प्रसाद देशमुख ने बताया कि प्रभारी प्रधान पाठक सपना यदु द्वारा जानकारी देने के बाद बच्चों को एम्बुलेंस से जिला अस्पताल लाया गया l घटना की जानकारी मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी प्रवास सिंह बघेल, बीईओ केवी राव सहित अन्य लोग जिला अस्पताल पहुंचे l आरएमओ डॉक्टर अखिलेश यादव ने बताया कि बच्चों का इलाज किया जा रहा है

और सभी की स्थिति ठीक है l जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि पौष्टिक चिक्की की सप्लाई शासन के द्वारा की जाती है l जिले के सभी प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को सप्ताह में तीन दिन दिया जाता है l मामले में स्कूल प्रबंधन से और जानकारी ली जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.