रायपुर : वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 41 ग्राम पंचायतों के काम-काज की समीक्षा की

Spread the love

 वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 41 ग्राम पंचायतों के काम-काज की समीक्षा की

वर्तमान मंथन/रायपुर : वन एवं जलवायु परिवर्तन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री तथा विधायक श्री मोहम्मद अकबर ने आज राजधानी के शंकरनगर स्थित अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न ग्राम पंचायतों के सरपंचों से जुड़कर विकास कार्यों के संबंध में चर्चा की। विकास कार्यों के चर्चा के दौरान कबीरधाम जिले के बोड़ला जनपद पंचायत के अंतर्गत 41 ग्राम पंचायतों के सरपंच तथा सचिव शामिल हुए।

वन मंत्री श्री अकबर ने जिला पंचायत स्तर पर सरपंचों के द्वारा मांग किए गए सभी रोजगारमूलक कार्यों का परीक्षण उपरान्त स्वीकृति के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस दौरान शासन स्तर से स्वीकृति मिलने वाले बड़े कार्यों का प्रस्ताव भी भेजने निर्देशित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विजय दयाराम के. सहित संबंधित विभागीय अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े।

वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव से एक-एक कर चर्चा की और संबंधित ग्राम पंचायत के पंचायत एवं ग्रामीण विकास के साथ-साथ वहां संचालित विकास कार्यों के बारे में जानकारी ली। मंत्री श्री अकबर ने सभी सरपंचों को अपने-अपने ग्राम पंचायत में योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन कर ग्रामीणों को अधिक से अधिक लाभ दिलाए जाने के लिए कहा। उन्होंने संबंधित सरपंच और सचिवों से चर्चा करते हुए ग्राम पंचायतों में जन सुविधा के विस्तार के लिए योजनाओं का तेजी से क्रियान्वयन के लिए विशेष जोर दिया।
वन मंत्री श्री अकबर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में आज जनपद पंचायत बोड़ला के अंतर्गत चिल्फी, राजाढार, बेंदा, लूप, सिवनीकला, बहनाखोदरा, शीतलपानी, झलमला, दरिया, समनापुर, बरबसपुर, तितरी, रोल, जामुनपानी, मुड़वाही, बम्हनी, रेंगाखारकला, सिवनीखुर्द, बरेण्डा, सरईपतेरा, भेलवाटोला, लोहारीडीह, उसरवाही, पण्डरिया, नेवासपुर, खारा, खम्हरिया, बोदा-47, कोयलारझोरी, घानीखुंटा, पण्डरीपानी, मिनमिनया जंगल, नवागांव, कटंगीकला, कांपा, लालपुरकला, सिंघनपुरी, बांधा, कटगो, छपरी और चौरा ग्राम पंचायत के काम-काज की समीक्षा की।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.