पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते दाम का विरोध: एनएसयूआई ने निकाला छात्र महंगाई मार्च

Spread the love

रायपुर। पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते दाम का विरोध दर्ज करने जिला एनएसयूआई अध्यक्ष अमित शर्मा के नेतृत्व में छात्रों ने गांधी मैदान से लेकर राजीव चौक तक छात्र महगाई मार्च निकाल कर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान बाइक और सिलेंडर को बैलगाड़ी के ऊपर लादकर छात्रों ने खुद बैल बनकर ढोया और मोटरसाइकिल की अर्थी को कांधा दिया।
एनएसयूआई जिला अध्यक्ष अमित शर्मा ने बताया कि देश मे जिस तरह से पेट्रोल डीज़ल के दाम बढ़ते जा रहे है इससे सबसे ज़्यादा परेशान मध्यम वर्गीय छात्र हो रहे है। स्कूल कॉलेज में पढऩे वाला छात्र पूरी तरह से अपने माता पिता पर निर्भर होता है, फीस भरने से लेकर स्कूल कॉलेज कोचिंग आने-जाने तक का खर्च माता पिता वहन करते है। कोरोना काल में लाखों छात्रों ने अपने माता पिता को खो दिया है और करोड़ो लोगो को नौकरी गवानी पड़ी। बावजूद इसके केंद्र में बैठी मोदी सरकार को ना देश की चिंता है और ना देशवासियों की और ना देश के छात्रों की ।
इस मार्च के माध्यम से एनएसयूआई के नेता रायपुर सांसद के पास यह मांग लेकर गए कि या तो हमें सस्ता पेट्रोल उपलब्ध करवाएं या फिर हमारी गाडिय़ां रखें, क्योंकि अब यह हमारे किसी काम की नहीं, हम इतना महंगा पेट्रोल-डीजल डलवा पाने में सक्षम नहीं है। इसी के चलते एनएसयूआई नेताओं ने सांकेतिक रूप से बैलगाड़ी पर सिलेंडर और बाइक को ढोया और मोटरसाईकल की अर्थी निकाली।
इस प्रदर्शन में प्रदेश सचिव हेमंत पाल, कार्यकारी अध्यक्ष कृष्णा सोनकर , विनोद कश्यप, जिला महासचिव निखिल वंजारी ,प्रशांत गोस्वामी, हरिओम तिवारी, महताब हुसैन, राजकुमार यादव, केशव सिन्हा, अंकित शर्मा, आलोक सिंह शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.