पाॅवर कंपनी के चेयरमेन श्री अंकित आनंद ने ली अधिकारियों की समीक्षा बैठक

Spread the love

पाॅवर कंपनी के चेयरमेन श्री अंकित आनंद ने ली अधिकारियों की समीक्षा बैठक

उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण विद्युत सुविधाएं उपलब्ध कराना पाॅवर कंपनी का लक्ष्य है: श्री अंकित आनंद

वर्तमान मंथन/दुर्ग : छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी के चेयरमेन (अध्यक्ष) श्री अंकित आनंद ने दुर्ग क्षेत्र के रायपुर नाका स्थित क्षेत्रीय मुख्यालय के सभाकक्ष में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। साथ में छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के एमडी(प्रबंध निदेशक) श्री हर्ष गौतम भी उपस्थित हुए। उन्होंने विभागीय कार्यों की प्रगति की विस्तार पूर्वक समीक्षा की। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को गुणवत्तापूर्ण एवं निर्बाध विद्युत सुविधाएं मुहैया कराना पॉवर कंपनी का लक्ष्य है। बैठक में छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड दुर्ग क्षेत्र के कार्यपालक निदेशक श्री संजय पटेल, अति.मुख्य अभियंता श्री एच.के.मेश्राम, अधीक्षण अभियंता द्वय श्री एस.आर.बांधे एवं श्री ए.के.गौराहा तथा दुर्ग क्षेत्र के समस्त कार्यपालन अभियंता उपस्थित हुए।

चेयरमेन श्री आनंद ने स्पॉट  बीलिंग, फोटो स्पॉट बीलिंग, मीटर रीडिंग, सिंचाई पंपों के विद्युतीकरण,  एसटीएन, ट्रांसफार्मर एवं सबस्टेशन मेंटेनेंस, एचटी एवं एलटी कनेक्शन, राजस्व एवं लाईन लॉस आदि कार्यों की संभागवार समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को खराब एवं फेल ट्रांसफार्मरों तथा स्टाप डिफेक्टिव मीटरों को जल्द से जल्द बदलने के निर्देश दिए। श्री आनंद ने अधिकारियों से उपभोक्ताओं की समस्या का त्वरित समाधान करते हुए तुरंत प्रतिक्रिया देने की बात कही। उन्होंने वितरण हानि को कम करने के लिए योजना बनाकर कार्य करने, वितरण कंेद्रों में उपभोक्ताओं की समस्याओं की नियमित माॅनिटरिंग करने, नया सर्विस कनेक्षन समय पर उपलब्ध कराने हेतु अधिकारियों को निर्देषित किया। अधिकारियों को समझाइस देते हुए श्री आनंद ने कहा कि 33 एवं 11 के.व्ही. फीडर का समय-समय पर नियमित रुप से मेंटेनेंस होना चाहिए, जिससे बिजली व्यवधान में कमी आएगी। कार्यपालन अभियंताओं को निर्देष देते हुए कहा कि सबस्टेषन आॅपरेटर की ट्रेनिंग एवं माँनिटरिंग लगातार किया जाना सुनिष्चित करें एवं महिने में एक बार सभी सबस्टेषनों का विजिट करें तथा सबस्टेषनों की साफ-सफाई का ध्यान रखें। उन्होंने वितरण ट्रांसफार्मर के खुले बाक्स को बंद करवाने, लाइन ट्रिपिंग की समस्या वाले फीडर में योजना बनाकर कार्य करने की बात कही। श्री आनंद ने अधिकारियों से कहा कि आवष्यकता पड़ने पर लंबी दूरी के फीडरों को सेपरेट कर छोटा करें या नया फीडर बनाये जिससे फीडर पर लोड कम पड़ेगा और विद्युत व्यवधान कम ली से बचाने के लिए लाइटनिंग अरेस्टर(तड़ित चालक) का उपयोग करने की सलाह दी। श्री आनंद ने कहा कि होगा, फाॅल्ट खोजना भी आसान होगा। उन्होंने अधिकारियों को विद्युतीय उपकरणों को आकाषीय बिज मीटर रीडिंग सही तरीके से सहीं समय पर की जानी चाहिए। उन्होंने डिफेक्टिव मीटरों की जांच करवाने के निर्देश दिए।

एमडी श्री हर्ष गौतम ने अधिकारियों से कहा कि अपने-अपने क्षेत्रों के कार्यों की सतत माॅनिटरिंग करें। हर छोटी-छोटी विद्युत समस्याओं के लिए शटडाउन ना करें, षिकायत अपने आप कम हो जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों की विद्युत संबंधी समस्याओं की सूचना विभाग को तुरंत मिल जाए, ऐसी व्यवस्था सुनिष्चित करें। उन्होंने जीर्ण-शीर्ण तारों को बदलने की सलाह दी, जिससे विद्युत व्यवधानों में कमी आएगी। श्री गौतम ने कहा कि सभी कनिष्ठ अभियंताओं को फील्ड में जाकर उपभोक्ताओं से संवाद करना चाहिए जिससे कि उनकी समस्याओं से विभाग अवगत हों सके और विभाग के उचित प्रतिक्रिया से उपभोक्ता संतुश्ट हो सके। चेयरमेंन श्री आनंद एवं प्रबंध निदेशक गौतम ने अधिकारियों से उनकी समस्याएं सुनी एवं निराकरण के उपाय भी सुझाए। अधिकारियों को अच्छे कार्यों के लिए बधाई देते हुए प्रोत्साहित भी किया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.