गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने किया भिलाई इस्पात संयंत्र का दौरा

Spread the love

भिलाई। गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने सोमवार को भिलाई इस्पात संयंत्र का दौरा किया एवम संयंत्र के वरिष्ठ अधिकारियों से भेंट की। वे आज सुबह इस्पात भवन पहुंचे जहां संयंत्र के निदेशक प्रभारी  अनिर्बान दासगुप्ता एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। तत्पश्चात् महामहिम राज्यपाल के समक्ष संयंत्र के निष्पादन पर एक प्रस्तुतिकरण दिया गया। उन्होंने भिलाई इस्पात संयंत्र के निदेश्क प्रभारी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा की।

प्रस्तुतिकरण के पश्चात महामहिम एवं उनका दल संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता के साथ सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर के लिए रवाना हुए। सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर में उन्हें संयंत्र की सुरक्षा नीतियों के बारे में जानकारी दी गई। अपने भिलाई प्रवास के दौरान उन्होंने संयंत्र के मॉडेक्स इकाइयों ब्लास्ट फर्नेस-8, स्टील मेल्टिंग शॉप-3 और यूनिवर्सल रेल मिल का भ्रमण किया। जहां उन्होंने हॉट मेटल, क्रूड इस्पात और विश्व की सबसे लंबी रेल के उत्पादन की प्रक्रिया को नजदीक से देखा। महामहिम राज्यपाल के साथ संयंत्र भ्रमण के दौरान सेल-बीएसपी के निदेषक प्रभारी  अनिर्बान दासगुप्ता, ईडी वक्र्स अंजनी कुमार और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

महामहिम राज्यपाल, गुजरात आचार्य देवव्रत ने भिलाई निवास में 20 से अधिक बीएसपी स्कूल व डीएवी स्कूल के शिक्षकों व बच्चों से मुलाकात की। भिलाई निवास में लगभग 100 छात्र उपस्थित थे जिसमें डीएवी अंतागढ़, राजहरा, हिरी और नंदिनी के छात्र भी शामिल थे। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने छात्रों के साथ बातचीत की तथा उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम के शिक्षा नीतियों के बारे में जानकारी दी।

अपने माता-पिता और बड़ों का सम्मान करने तथा अपने कार्य के प्रति ईमानदार रहने का संदेष दिया। आचार्य देवव्रत के भिलाई प्रवास पर उनके सम्मान में 28 नवम्बर को इंदौर की प्रसिद्ध गायिका मती कल्पना झोकरकर और संयंत्र के क्रीडा, सांस्कृतिक समूह एवं नगर सेवाएं विभाग के कलाकारों और इस्पात नगरी के चुनिंदा कलाकारों द्वारा भारतीय शास्त्रीय संगीत का प्रदर्शन व सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भिलाई निवास में किया गया।

भिलाई। गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने सोमवार को भिलाई इस्पात संयंत्र का दौरा किया एवम संयंत्र के वरिष्ठ अधिकारियों से भेंट की। वे आज सुबह इस्पात भवन पहुंचे जहां संयंत्र के निदेशक प्रभारी  अनिर्बान दासगुप्ता एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। तत्पश्चात् महामहिम राज्यपाल के समक्ष संयंत्र के निष्पादन पर एक प्रस्तुतिकरण दिया गया। उन्होंने भिलाई इस्पात संयंत्र के निदेश्क प्रभारी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ चर्चा की।

प्रस्तुतिकरण के पश्चात महामहिम एवं उनका दल संयंत्र के निदेशक प्रभारी अनिर्बान दासगुप्ता के साथ सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर के लिए रवाना हुए। सेफ्टी एक्सीलेंस सेंटर में उन्हें संयंत्र की सुरक्षा नीतियों के बारे में जानकारी दी गई। अपने भिलाई प्रवास के दौरान उन्होंने संयंत्र के मॉडेक्स इकाइयों ब्लास्ट फर्नेस-8, स्टील मेल्टिंग शॉप-3 और यूनिवर्सल रेल मिल का भ्रमण किया। जहां उन्होंने हॉट मेटल, क्रूड इस्पात और विश्व की सबसे लंबी रेल के उत्पादन की प्रक्रिया को नजदीक से देखा। महामहिम राज्यपाल के साथ संयंत्र भ्रमण के दौरान सेल-बीएसपी के निदेषक प्रभारी  अनिर्बान दासगुप्ता, ईडी वक्र्स अंजनी कुमार और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

महामहिम राज्यपाल, गुजरात आचार्य देवव्रत ने भिलाई निवास में 20 से अधिक बीएसपी स्कूल व डीएवी स्कूल के शिक्षकों व बच्चों से मुलाकात की। भिलाई निवास में लगभग 100 छात्र उपस्थित थे जिसमें डीएवी अंतागढ़, राजहरा, हिरी और नंदिनी के छात्र भी शामिल थे। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने छात्रों के साथ बातचीत की तथा उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम के शिक्षा नीतियों के बारे में जानकारी दी।

अपने माता-पिता और बड़ों का सम्मान करने तथा अपने कार्य के प्रति ईमानदार रहने का संदेष दिया। आचार्य देवव्रत के भिलाई प्रवास पर उनके सम्मान में 28 नवम्बर को इंदौर की प्रसिद्ध गायिका मती कल्पना झोकरकर और संयंत्र के क्रीडा, सांस्कृतिक समूह एवं नगर सेवाएं विभाग के कलाकारों और इस्पात नगरी के चुनिंदा कलाकारों द्वारा भारतीय शास्त्रीय संगीत का प्रदर्शन व सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भिलाई निवास में किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.