किसानों को खाद-बीज के लिए दिक्कत न हो: डॉ. टेकाम

Spread the love
  • खाद-बीज का भण्डारण मांग के अनुरूप करने के निर्देश
    चालू खरीफ सीजन में अब तक 2039 करोड़ का कृषि ऋण वितरित

रायपुर। सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने राज्य में हो रही अच्छी बारिश और खरीफ फसलों की बुआई में मद्देनजर सोसायटियों में खाद-बीज की पर्याप्त मात्रा का भण्डारण सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों दिए हैं। उन्होंने कहा है कि खरीफ की बुआई जोर पकडऩे लगी है। इसको देखते हुए किसान खाद का उठाव तेजी से करने लगे है। समितियों में सभी प्रकार के रासायनिक उर्वरकों एवं खरीफ फसलों के बीज का सतत् भण्डारण सुनिश्चित करें ताकि किसानों को किसी भी तरह की दिक्कत न हो। सहकारिता मंत्री डॉ. टेकाम मंगलवार को मंत्रालय में सहकारिता विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर खाद-बीज के भण्डारण एवं वितरण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। समीक्षा बैठक में विशेष सचिव सहकारिता एव पंजीयक सहकारी संस्थाएं श्री हिमशिखर गुप्ता, मार्कफेड के प्रबंध संचालक सुश्री किरण कौशल, अपेक्स बैंक के प्रबंध संचालक श्री के.एन.कान्डे, ओएसडी अविनाश श्रीवास्तव उपस्थिति थे। बैठक में अपर पंजीयक, संयुक्त पंजीयक, उप पंजीयक तथा सहायक पंजीयक, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी वर्चुअल रूप से शामिल हुए।
चालू खरीफ फसलों के लिए निर्धारित लक्ष्य राशि रूपये 5300 करोड़ के विरूद्व 21 जून तक 2039 करोड़ का अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण 5 लाख 26 हजार 933 किसानों को किया जा चुका है, जो कि लक्ष्य का 38 प्रतिशत है। राज्य शासन द्वारा सहकारिता के माध्यम से खरीफ सीजन के लिए 7 लाख 25 हजार मीट्रिक टन उर्वरक वितरण का लक्ष्य रखा गया है, जिसके विरूद्व 21 जून तक सहकारी समितियों के गोदामों में 3 लाख 77 हजार 197 मीट्रिक टन उर्वरक भंडारण एवं 2 लाख 31 हजार 720 मीट्रिक टन उर्वरक का उठाव किसानो में किया जा चुका है।
समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने बताया कि 21 जून तक यूरिया का कुल भंडारण एक लाख 66 हजार 225 मीट्रिक टन के विरूद्ध किसानों को एक लाख 15 हजार 632 मीट्रिक टन वितरण, डीएपी का कुल भंडारण एक लाख 479 मीट्रिक टन एवं किसानों को 63 हजार 125 मीट्रिक टन वितरण, इफको का कुल भंडारण 30 हजार 579 मीट्रिक टन एवं किसानों को 14 हजार 872 वितरण, पोटाश का कुल भंडारण 32 हजार 581 मीट्रिक टन एवं किसानों को 15 हजार 488 मीट्रिक टन एवं सुपरफास्फेट का कुल भंडारण 47 हजार 333 मीट्रिक टन एवं किसानों को 22 हजार 603 मीट्रिक टन का वितरण किया जा चुका है। सहकारी समितियों के गोदामों में सभी तरह के उर्वरकों का अभी एक लाख 45 हजार 477 मीट्रिक टन का स्टाक है। सहकारी समितियों में 5 लाख 17 हजार 376 क्ंिवटल खरीफ फसल के प्रमाणित बीज का भंडारण एवं 3 लाख 29 हजार 245 क्ंिवटल बीजों का वितरण किसानों को किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.