सीएम और गृहमंत्री के गृह जिले के तीनो निगम और एक नगर पालिका में 20 दिसंबर को होगा चुनाव

Spread the love

भिलाई। छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग ने आज नगरीय निकाय चुनाव के लिए तारीखों की घोषणा कर दी है। जिसके तहत प्रदेश के 10 जिलों के 15 शहरों में निकाय चुनाव के लिए मतदान 20 दिसंबर को होगा। 16 शहरों के 17 वार्डों में उपचुनाव भी होगा। नामांकन की प्रक्रिया 27 नवंबर से ही शुरू होगी नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 3 दिसंबर और नाम वापसी की अंतिम तिथि 23 दिसंबर की रात तक मतगणना के बाद विजेता की घोषणा भी कर दी जाएगी।
आगामी 27 नवंबर से नामांकन दाखिल होगा, 20 दिसंबर को चुनाव और 23  दिसंबर को मतो की गिनती होगी।

इस बार का नगरीय निकाय चुनाव बेहद ही खास है और सबकी नजर दुर्ग जिले में होने वाले तीन नगर निगमों भिलाई, रिसाली और भिलाई तीन चरोदा और एक नगर पालिका जामुल में चुनाव पर होगी क्योंकि यह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का गृह जिला है। हालांकि इन पिछले चुनाव में भिलाई नगर निगम में कांग्रेस को तो भिलाई तीन चरोदा में भाजपा और जामुल नगर पालिका में कांग्रेस को सफलता मिली थी और इन्ही के दलों के महापौर और नपा अध्यक्ष थे। जबकि रिसाली नगर निगम का यह पहला चुनाव है क्योंकि पिछले दो साल पहले ही यह भिलाई निगम से कटकर अलग नगर निगम बना है। भिलाई नगर निगम, रिसाली और जामुल नगर पालिका में पिछले साल दिसंबर में ही चुनाव हो जाना था लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन के कारण एक साल बाद हो रहा है। जबकि भिलाई तीन चरोदा निगम का चुनाव 2016 में हुआ था इसलिए इस बार यहां सही समय पर चुनाव होने जा रहा है।

दुर्ग जिले के तीनों नगर निगम मिलाकर लगभग 5 लाख 90 हजार मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। दुर्ग मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का गृह जिला है। जिसकी वजह से ये चुनाव काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इन चुनावों के लिए कांग्रेस, बीजेपी सहित अन्य दलों ने तैयारियां पहले से ही शुरू कर दी थी। मुख्यमंत्री पिछले दिनों कई बार दुर्ग जिले का दौरा कर चुके हैं। वहीं गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू के क्षेत्र रिसाली नगर निगम में भी चुनाव है। जिसके वजह से यहां का चुनाव गृह मंत्री बनाम अन्य दलों के बीच माना जा रहा है।
इधर, पहले हुए नगरीय निकाय चुनाव में हार का सामना कर चुकी बीजेपी इस चुनाव में पूरी ताकत के साथ उतरने की तैयारी में है। जिले के चुनाव प्रभारी भूपेंद्र सवन्नी ने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल की उपस्थिति में बुधवार को भिलाई भाजपा के बीजेपी के कार्यकर्ताओं की बैठक लेकर चुनाव की तैयारी में जी जान से जुटने और हर हाल में जिले के चारो निकाय में भजपा के महापौर और अध्यक्ष बनाने के साथ ही अधिक से अधिक अपने पार्टी के पार्षदो ंको जिताने की बात कहते हुए भिलाई भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के यहां भाजपा के सभी 6 मंडल अध्यक्षों की बैठक लेकर यहां की वास्तुगत स्थिति से वाकिफ हुए ताकि इस आधार पर भाजपा की जीत के लिए रणनीति बना सके।

तीनों नगर निगमों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी
भिलाई नगर निगम:-भिलाई नगर निगम का गठन 8 जून 1998 को हुआ था। यहां के पहले प्रशासक दुर्ग कलेक्टर सेवाराम थे जबकि उस समय भिलाई के विधायक बी डी कुरैशी थे और उनके मांग पर नीता लोधी को कांग्रेस ने टिकिट दी और जीत कर भिलाई की पहली महापौर बनी थीं। नगर निगम की सीमा की बात करें तो यह भिलाई इस्पात संयंत्र और आम शहरी क्षेत्र में बंटा हुआ है। इसके अंतर्गत कुल 70 वार्ड आते हैं। इसमें  21 वार्ड भिलाई इस्पात संयंत्र की नगरीय व्यवस्थाओं के अंतर्गत टाउनशिप एरिया में तो 49 वार्ड पटरी पार निगम की नगर पालिकाओं के अंतर्गत आते हैं।

यह सभी वार्ड 6 जोन नेहरू नगर, वैशाली नगर, मदर टेरेसा नगर, शिवाजी नगर, सेक्टर एरिया और रिसाली के कार्य क्षेत्र में बंटे हैं। निगम क्षेत्र में कुल जनसंख्या 6.25 लाख हैं। इसमें 3.99 लाख शहरी क्षेत्र और 1.59 लाख जनसंख्या टाउनशिप क्षेत्र में है। वहीं मतदाता की बात करें तो इनकी संख्या 4 लाख 7 हजार 624 है।

भिलाई चरौदा नगर निगम:-नगर पालिका परिषद भिलाई चरौदा का गठन साडा विघटन के बाद 2000 में हुआ था। यह पुरानी भिलाई के नाम से जाना जाता है। भिलाई चरौदा को नगर पालिका से नगर निगम का दर्जा 8 जून 2015 को मिला था। नए परिसीमन के अनुसार इसके अंतर्गत 40 वार्ड आते हैं। इसके अंतर्गत कुल 88 हजार 205 मतदाता हैं।

नया नगर निगम रिसाली:-रिसाली नगर निगम का गठन कुछ समय पहले ही हुआ है। यहां पहली बार नगर निगम चुनाव होगा। इस निगम के अंतर्गत 40 वार्ड आते हैं। यहां 94,104 मतदाता अपने-अपने वार्डों के लिए पार्षद चुनेंगे। कुल मतदाताओं में 47,288 पुरुष व 48814 महिला मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इस नगर निगम में महिला मतदाताओं की संख्या पुरुषों से अधिक है। सबसे अधिक मतदाता वार्ड 25 आशीष नगर पश्चिम में हैं। यहां 3670 मतदाता हैं। वहीं सबसे कम मतदाता वार्ड- 9 डीपीएस रिसाली सेक्टर में हैं। यहां कुल मतदाताओं की संख्या 1173 है। इसमें 599 पुरुष और 574 महिला मतदाता हैं। यह नगर निगम गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू का क्षेत्र हैं। इसलिए इस बार यहां कांग्रेस और भाजपा सहित अन्य दल व निर्दलीय की जगह गृह मंत्री बनाम अन्य दल का चुनाव माना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.