निकाय चुनाव की घोषणा होते ही शहर की राजनीतिक फिजा बदली टिकट के लिए दावेदार शुरू कर दिये अपने अपने नेताओं को रिझाने का कार्य

Spread the love
भिलाई। निकाय चुनाव की घोषणा होते ही शहर की राजनीतिक फिजा बदल सी गई है। कांग्रेस और भाजपा के संगठन से जुड़े नेता बेहतर प्रत्याशी के चयन की कवायद में जुट गए हैं। टिकट के दावेदारों में अपनी अपनी पार्टी के आका नेताओं को रिझाने की होड़ मच गई है। इस बीच वार्ड में मतदाताओं पर प्रभाव रखने वालों से मिलने-मनाने का दौर भी दावेदारों ने शुरू कर दिया है। भिलाई सहित रिसाली व भिलाई-चरोदा नगर निगम और जामुल नगर पालिका चुनाव का बिगुल बज चुका है। 20 दिसम्बर को मतदान की तारीख तय हो चुकी है। 27 नवंबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इस ऐलान के बाद चुनाव होने वाले चारों निकाय क्षेत्र की राजनीति में उफान सा आ गया है। पार्षद चुनाव लडऩे की इच्छा रखने वाले अचानक सक्रिय होकर वार्ड में नजर आ रहें हैं। टिकट के लिए कांग्रेस और भाजपा से हर वार्ड में एक अनार सौ बीमार वाली स्थिति बनने का आसार साफ नजर आ रहा है। कांग्रेस और भाजपा जैसी राष्ट्रीय पार्टी में टिकट वितरण का अपना अपना मापदंड बना हुआ है। निर्धारित प्रक्रिया के तहत पार्टियां टिकट के दावेदारों से बायोडाटा के साथ आवेदन लेगी। लेकिन उससे पहले दोनों ही राष्ट्रीय पार्टी बेहतर प्रत्याशी चयन के लिए अंदरूनी स्तर पर कवायद तेज कर चुके हैं। इसके लिए गुप्त रुप से दावेदारों के चाल चरित्र। पार्टी में योगदान और जनता के बीच छवि की पड़ताल करायी जा रही है। इसके अलावा दावेदारों की आर्थिक और सामाजिक स्तर का भी आंकलन संगठन के नेताओं के द्वारा कराया जा रहा है। इधर चुनाव की घोषणा होते ही चारों निकाय के कांग्रेस और भाजपा से टिकट के दावेदार अपने आका नेताओं से संपर्क कर अपनी भावना से अवगत कराने में जुट गए हैं। कांग्रेस से टिकट की दौड़ में शामिल दावेदार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के भिलाई-3 स्थित निवास तक उचित माध्यम से अपनी इच्छा को पहुंचाने में कोई कसर छोड़ नहीं रहे हैं। वहीं गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, पीएचई मंत्री गुरु रुद्र कुमार, विधायक देवेन्द्र यादव के निवास पर भी कांग्रेसी दावेदारों की भीड़ नजर आ रही है। दूसरी तरफ भाजपा में अभी संगठन पर राज्यसभा सदस्य सु सरोज पाण्डेय के समर्थकों का कब्जा बना हुआ है। लिहाजा भाजपा के ज्यादातर दावेदार सु पाण्डेय के रिसाली निवास में नजर आ रहे हैं। इसके अलावा लोकसभा सांसद विजय बघेल और वैशाली नगर विधायक विद्यारतन भसीन से भी भाजपा के टिकट चाहने वाले कईं दावेदार संपर्क बनाए हुए हैं। आज सुबह चुनाव लडऩे की इच्छा जताते हुए अनेक दावेदार वार्ड में निकले और प्रभावशाली लोगों को आकर्षित करने का प्रयास किया। कुछ लोगों ने मतदाताओं से मिलकर आशीर्वाद भी लेना शुरू कर दिया है। इससे वार्डों में राजनीतिक माहौल बनने लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.