पिछले दो साल से अटकी नर्सिंग की परीक्षा से विद्यार्थियों में आक्रोश, सड़क पर उतर कर किया प्रदर्शन नारेबाजी

Spread the love
  • स्टूडेंट्स पुलिस और स्टूडेंट के बीच जमकर धक्का-मुक्की

रायपुर। शुक्रवार को नर्सिंग स्टूडेंट्स अपने मांगों को लेकर सड़कों पर उतर आए पिछले दो सालों से अटकी नर्सिंग परीक्षा की वजह से विद्यार्थियों में आक्रोश दिखाई दे रहा है। 1 हजार से ज्यादा नर्सिंग छात्र रायपुर की सड़क पर बैठे थे। बूढ़ातालाब के पास श्याम टॉकिज से लगी सड़क पर पुलिस की बैरीकेडिंग के पास ये सभी स्टूडेंट धरना दिए हुए थे। दरअसल ये सभी सीएम हाउस का घेराव करने निकले थे। पिछले दो सालों से अटकी नर्सिंग परीक्षा की वजह से अब छात्रों में गुस्सा है। पुलिस ने इन्हें यहीं रोक लिया। स्टूडेंट्स और पुलिस के बीच जबरदस्त धक्का-मुक्की भी हुई। छात्र बैरीकेड तोड़कर आगे बढऩा चाह रहे थे मगर पुलिसकर्मियों डंडे के जोर पर सभी को रोक लिया।
इससे पहले दोपहर के वक्त करीब 3 बजे रायपुर के बूढ़ा तालाब की सड़क पर नर्सिंग स्टूडेंट के जोरदार नारे सुनाई दे रहे थे। स्टूडेंट कह रहे थे परीक्षा लेने की फुर्सत नहीं, यह कैसी सरकार है। जनता कांग्रेस के समर्थन के साथ नर्सिंग स्टूडेंट्स का एक बड़ा जत्था धरना स्थल से सीएम हाउस की ओर रैली की शक्ल में आगे बढ़ा। श्याम टॉकीज से ठीक पहले पुलिस की टीम ने बैरिकेड लगाकर छात्रों को रोक लिया। इसकी वजह से स्टूडेंट्स पुलिस और स्टूडेंट के बीच जमकर धक्का-मुक्की भी हुई।
जनता कांग्रेस के नेता प्रदीप साहू और उनके समर्थक सड़क पर ही लेट गए। स्टूडेंट्स ने भी सड़क पर ही धरना देकर रघुपति राघव गाना शुरू कर दिया। जनता कांग्रेस नेता और छात्रों ने पुलिस अफसरों से पूछा कि यह सरकार ऑनलाइन शराब बेच सकती है, लेकिन 2 साल से रुकी हमारी परीक्षा को ऑनलाइन नहीं लिया जा रहा।  छात्र लगातार इस बात की मांग कर रहे हैं कि उनकी परीक्षा ली जाए ताकि वह भी अपना करियर संवार सकें। लगातार इसे लेकर छात्रों ने कई बार स्वास्थ्य मंत्रालय को भी अपनी बात से अवगत कराया। खुद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से भी कई बार ज्ञापन देकर छात्रों ने बातचीत की मगर बात नहीं बनी । इसलिए आक्रोशित होकर वे आज सड़क पर उतरे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.